दिल की कोमल उमंगों को भला कोई पार कर सका है, वो तो बस बढ़ती ही जाती हैं। मैंने भी घुमा फिरा कर माँ को अपनी बात बता दी थी कि मेरी अब अब शादी करवा दो।

माँ तो बस यह कह कर टाल देती… बड़ी बेशरम हो गई है… ऐसी भी क्या जल्दी है?

क्या कहती मैं भला, अब जिसकी चूत में खुजली चले उसे ही पता चलता है ना ! मेरी उमर भी अब चौबीस साल की हो रही थी। मैंने बी एड भी कर लिया था और अब मैंने एक प्राईवेट स्कूल में टीचर की नौकरी भी करती थी। मुझे जो वेतन मिलता था… उससे मेरी हाथ-खर्ची चलती थी और फिर शादी के लिये मैं कुछ ना कुछ खरीद ही ही लेती थी। एक धुंधली सी छवि को मैं अपने पति के रूप में देखा करती थी। पर ये धुंधली सी छवि किसकी थी।

पापा ने सामने का एक कमरा मुझे दे दिया था, जो कि उन्होने वास्तव में किराये के लिये बनाया था। उसका एक दरवाजा बाहर भी खुलता था। मेरी साईड की खिड़की मेरे पड़ोसी के कमरे की ओर खुलती थी। जहाँ मेरी सहेली रजनी और उसका पति विवेक रहते थे। शायद मेरे मन में उसके पति विवेक जैसा ही कोई लड़का छवि के रूप में आता था। शायद मेरे आस-पास वो एक ही लड़का था जो मुझे बार बार देखा करता था सो शायद वही मुझे अच्छा लगने लगा था।

कभी कभी मैं देर रात को अपने घर के बाहर का दरवाजा खोल कर बहुत देर तक कुर्सी पर बैठ कर ठण्डी हवा का आनन्द लिया करती थी। कभी कभी तो मैं अपनी शमीज के ऊपर से अनजाने में अपनी चूत को भी धीरे धीरे घिसने लगती थी, परिणाम स्खलन में ही होता था। फिर मैं दरवाजा बन्द करके सोने चली जाती थी। मुझे नहीं पता था कि विवेक अपने कमरे की लाईट बन्द करके ये सब देखा करता था। मेरी सहेली तो दस बजे ही सो जाती थी।

एक बार रात को जैसे ही सोने के लिये जा रही थी कि विवेक के कमरे की बत्ती जल उठी। मेरा ध्यान बरबस ही उस ओर चला गया। वो चड्डी के ऊपर से अपना लण्ड मसलता हुआ बाथरूम की ओर जा रहा था। मैं अपनी अधखुली खिड़की से चिपक कर खड़ी हो गई। बाथरूम से पहले ही उसने चड्डी में से अपना लण्ड बाहर निकाला और उसे हिलाने लगा। यह देख कर मेरे दिल में जैसे सांप लोट गया, मैंने अपनी चूत धीरे से दबा ली। फिर वो बाथरूम में चला गया। पेशाब करके वो बाहर निकला और उसने अपना लण्ड चड्डी से बाहर निकाला और उसे मुठ्ठ जैसा रगड़ा। फिर उसने जोर से अपने लण्ड को दबाया और चड्डी के अन्दर उसे डाल दिया। उसका खड़ा हुआ लण्ड बहुत मुश्किल से चड्डी में समाया था।

मेरे दिल में, दिमाग में उसके लण्ड की एक तस्वीर सी बैठ गई। मुझसे रहा नहीं गया और मैं धीरे से वहीं बैठ गई। मैंने हौले हौले से अपनी चूत को घिसना आरम्भ कर दिया… अपनी एक अंगुली चूत में घुसा भी दी… मेरी आँखें धीरे धीरे बन्द सी हो गई। कुछ देर तक तो मैं मुठ्ठ मारती रही और फिर मेरी चूत से पानी छूट गया। मेरा स्खलन हो गया था। मैं वहीं नीचे जमीन पर आराम से बैठ गई और दोनो घुटनों के मध्य अपना सर रख दिया। कुछ देर बाद मैं उठी और अपने बिस्तर पर आकर सो गई।

सवेरे मैं तैयार हो कर स्कूल के लिये निकली ही थी कि विवेक घर के बाहर अपनी बाईक पर कहीं जाने की तैयारी कर रहा था।

“कामिनी जी ! स्कूल जा रही हैं?”

“जी हाँ ! पर मैं चली जाऊँगी, बस आने वाली है…”

“बस तो रोज ही आती है, आज चलो मैं ही छोड़ आऊँ… प्लीज चलिये ना…”

मेरे दिल में एक हूक सी उठ गई… भला उसे कैसे मना करती? मुस्करा कर मैंने उसे देखा- देखिये, रास्ते में ना छोड़ देना… मजिल तक पहुँचाइएगा !

मैंने द्विअर्थी डायलॉग बोला… मेरे दिल में एक गुदगुदी सी उठी। मैं उसकी बाईक के पास आ गई।

“ये तो अब आप पर है… कहाँ तक साथ देती हैं!”

“लाईन मार रहे हो?”

वो हंस दिया, मुझे भी हंसी आ गई। मैं उछल कर पीछे बैठ गई। उसने बाईक स्टार्ट की और चल पड़ा। रास्ते में उसने बहुत सी शरारतें की। वो बार बार गाड़ी का ब्रेक मार कर मुझे उससे टकराने का मौका देता। मेरे सीने के उभार उसके कठोर पीठ से टकरा जाते। मुझे रोमांच सा हो उठता था। अगली बार जब उसन ब्रेक लगाया तो मैंने अपने सीने के दोनों उभार उसकी पीठ से चिपका दिये।

loading...

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


indian sex stori hendisex.kahani hlndinonvag xxx sexe kahaniya dede baiya valianterwasna khet mexxx video com chachi ko choda ma ki madaad seमाँ बेटा बहिण सेक्स कथा 2018dasi chudai story hindi मम्मी विथ फुफाजी hind dex soteerhindekahanisexbhatije 7e gand chodai kahanihinde grup sex storyhospital mein 20 Saal ladki ki chudai Karti Story Kahanikamukta antarvasna.comwww urdu kahaniya mammy ko son ne ship me chodanaukar mammi ki choochi dba raha thaxxx didi ki chut imageचुत मारते खून निकलताsex stori hindiइंडियन भाभी आंटी सेक्सकाहनीछोटी चुत के साथ ट्रेन का सफर की कहानीpromotion ke liye bhabhi ki chudai ki hindistorypariwar me chudai ke bhukhe or nange logsaxistorehindeXxx chodai ki kahani mina bhavi kiXXX XXX 9 साल की लड़की की गोरी गोरी च** फाड़ दी इस मोबाइल डाल दिया वीडियोससुर ने बहु के रेप किया भिडिवो सैकसीसुहागरत कि चोदाई कहनीहिंदी स्टोरी मेरी कुवारी भाभी क्सक्सक्सगीली चूल में जीभ घुसेड़ाजिनस पेनट मे देसी सेकसीsrabi bhai bhan ko choda xnx.com sexy bhatija ne kamsin fuwa choad kar maa hindi kahani likhसादी हे गए है उसकाxxxhindi sex story chacha ne makanmlkin ki beti ko chdabur ki chudai hindichachi ke kam Anushree chudaiseax new kahani damad ne choda hindi me.comxxx. Reshma ki chodai ki kahani sexmadachod beta chhinal maaristo me chudai kahani hindi melauda naram bur garamxxx photo bhabhi kahani hindiRealsex stores bap beti vasena .comxxx hut khanehot sex stories. land chut chudayi sex kahani dot com/hindi-font/archiveantarvasna maa ki chudai dharmik yatra per hotel mexxx papa ne tight chut ka fayda liyaचोदाइ कहानीbap bate urdo sexy kahinyबड़ी बहन की चुदाई कहानियाँSEXI BIVI KELE VALE SE CHUDAI HINDI MExxx mami ki photu ka sath chudai ki hindi sex stroysixey video hinadi hot you tarabhot collage girl/nokarani/bus me hot ladki ki kahanixxx चोधा पाधीxxx khaniya adio didi aur bhaimami aur biwi ki cudai ki ek sath publicsakse khany ful gande estoresex hindee kahaneegaon bhabhiyo ki lila chudai kisarabi mammi ko xxx khani hindi meak dosre ko chumte hove sohagrat k vidiobuddhe se chudai sexy kahaanix hinbi sixe vidieo xxx yoratanntvasna Hindi sex kahaniya feer mombhabikichudaistorychoot chudai in hindibhabhi ko bra kharida storychudai house kahani.comXXX SEXY STORYES HINDI MAI PADHANE KE LEA chalu planmesex hd videopapa daroo pite the me maa ko chodta tha xxx bf hinde kahaniदेसी चुत फाडता डॉक्टर विडीयो