मेरी शादी करवा दो




loading...

दिल की कोमल उमंगों को भला कोई पार कर सका है, वो तो बस बढ़ती ही जाती हैं। मैंने भी घुमा फिरा कर माँ को अपनी बात बता दी थी कि मेरी अब अब शादी करवा दो।

माँ तो बस यह कह कर टाल देती… बड़ी बेशरम हो गई है… ऐसी भी क्या जल्दी है?

क्या कहती मैं भला, अब जिसकी चूत में खुजली चले उसे ही पता चलता है ना ! मेरी उमर भी अब चौबीस साल की हो रही थी। मैंने बी एड भी कर लिया था और अब मैंने एक प्राईवेट स्कूल में टीचर की नौकरी भी करती थी। मुझे जो वेतन मिलता था… उससे मेरी हाथ-खर्ची चलती थी और फिर शादी के लिये मैं कुछ ना कुछ खरीद ही ही लेती थी। एक धुंधली सी छवि को मैं अपने पति के रूप में देखा करती थी। पर ये धुंधली सी छवि किसकी थी।

पापा ने सामने का एक कमरा मुझे दे दिया था, जो कि उन्होने वास्तव में किराये के लिये बनाया था। उसका एक दरवाजा बाहर भी खुलता था। मेरी साईड की खिड़की मेरे पड़ोसी के कमरे की ओर खुलती थी। जहाँ मेरी सहेली रजनी और उसका पति विवेक रहते थे। शायद मेरे मन में उसके पति विवेक जैसा ही कोई लड़का छवि के रूप में आता था। शायद मेरे आस-पास वो एक ही लड़का था जो मुझे बार बार देखा करता था सो शायद वही मुझे अच्छा लगने लगा था।

कभी कभी मैं देर रात को अपने घर के बाहर का दरवाजा खोल कर बहुत देर तक कुर्सी पर बैठ कर ठण्डी हवा का आनन्द लिया करती थी। कभी कभी तो मैं अपनी शमीज के ऊपर से अनजाने में अपनी चूत को भी धीरे धीरे घिसने लगती थी, परिणाम स्खलन में ही होता था। फिर मैं दरवाजा बन्द करके सोने चली जाती थी। मुझे नहीं पता था कि विवेक अपने कमरे की लाईट बन्द करके ये सब देखा करता था। मेरी सहेली तो दस बजे ही सो जाती थी।

एक बार रात को जैसे ही सोने के लिये जा रही थी कि विवेक के कमरे की बत्ती जल उठी। मेरा ध्यान बरबस ही उस ओर चला गया। वो चड्डी के ऊपर से अपना लण्ड मसलता हुआ बाथरूम की ओर जा रहा था। मैं अपनी अधखुली खिड़की से चिपक कर खड़ी हो गई। बाथरूम से पहले ही उसने चड्डी में से अपना लण्ड बाहर निकाला और उसे हिलाने लगा। यह देख कर मेरे दिल में जैसे सांप लोट गया, मैंने अपनी चूत धीरे से दबा ली। फिर वो बाथरूम में चला गया। पेशाब करके वो बाहर निकला और उसने अपना लण्ड चड्डी से बाहर निकाला और उसे मुठ्ठ जैसा रगड़ा। फिर उसने जोर से अपने लण्ड को दबाया और चड्डी के अन्दर उसे डाल दिया। उसका खड़ा हुआ लण्ड बहुत मुश्किल से चड्डी में समाया था।

मेरे दिल में, दिमाग में उसके लण्ड की एक तस्वीर सी बैठ गई। मुझसे रहा नहीं गया और मैं धीरे से वहीं बैठ गई। मैंने हौले हौले से अपनी चूत को घिसना आरम्भ कर दिया… अपनी एक अंगुली चूत में घुसा भी दी… मेरी आँखें धीरे धीरे बन्द सी हो गई। कुछ देर तक तो मैं मुठ्ठ मारती रही और फिर मेरी चूत से पानी छूट गया। मेरा स्खलन हो गया था। मैं वहीं नीचे जमीन पर आराम से बैठ गई और दोनो घुटनों के मध्य अपना सर रख दिया। कुछ देर बाद मैं उठी और अपने बिस्तर पर आकर सो गई।

सवेरे मैं तैयार हो कर स्कूल के लिये निकली ही थी कि विवेक घर के बाहर अपनी बाईक पर कहीं जाने की तैयारी कर रहा था।

“कामिनी जी ! स्कूल जा रही हैं?”

“जी हाँ ! पर मैं चली जाऊँगी, बस आने वाली है…”

“बस तो रोज ही आती है, आज चलो मैं ही छोड़ आऊँ… प्लीज चलिये ना…”

मेरे दिल में एक हूक सी उठ गई… भला उसे कैसे मना करती? मुस्करा कर मैंने उसे देखा- देखिये, रास्ते में ना छोड़ देना… मजिल तक पहुँचाइएगा !

मैंने द्विअर्थी डायलॉग बोला… मेरे दिल में एक गुदगुदी सी उठी। मैं उसकी बाईक के पास आ गई।

“ये तो अब आप पर है… कहाँ तक साथ देती हैं!”

“लाईन मार रहे हो?”

वो हंस दिया, मुझे भी हंसी आ गई। मैं उछल कर पीछे बैठ गई। उसने बाईक स्टार्ट की और चल पड़ा। रास्ते में उसने बहुत सी शरारतें की। वो बार बार गाड़ी का ब्रेक मार कर मुझे उससे टकराने का मौका देता। मेरे सीने के उभार उसके कठोर पीठ से टकरा जाते। मुझे रोमांच सा हो उठता था। अगली बार जब उसन ब्रेक लगाया तो मैंने अपने सीने के दोनों उभार उसकी पीठ से चिपका दिये।



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


ANTARVASNA JABRJASTI CHOTI LADKI KIxxx chut ki kahani hindiपियाका की कुवारी बुर चदाई कहानीमा बेटा अनटी ऐक साथ चूदाई देशी सेक्सी काहनियाjetha ne pragnant sex kahaniसेकस कहानी नानी मामी ओर दीदी की चुदाई kachi bahu ki chudai mumbai meherohan ka saxse beutifull xxx chude videosanti ko bdsm sax pasand he khanipodoshi bhabi ko chod ke chut se khoon nikala xxx story madam ne bola car sikha do hindi saxy storywxw.hindi.antarvasna.ajnavi.sex.chodai.photo.stories.commasatram.net pahli bar chudaiashlil kahani in hindiantervasnasexstore.comkamkuta dot com dada ji se chudai storyHindi.story,xasxxx pinky chudai kahanixxx vvideo khuteya chudaeपहली बार चोदा थूक लगा केमा को चोदा लम्बी कहानियाmere bf ne muze patakar choda pahili bar new sexy story.combottom boy ne chudwaya jabardasti hindi sex storychodih sex bhoreholi par bhno ki chudi ki khaniwww antarwasnasexi kahanikamuktaAntervasna sitorihindi sex story didihinde grup sex storylauki ka chutहिंदी सकसी कहानीया मामी, भाभी,चाची, आदिBarish.me..MA.OR.BETE.KI.CUDAI.KI.SEXSI.SAYRE.HINDI.xxxMobail stoseचूतड़ मरना सेक्स विडिओसxxx.3g.vidios.jbrdati.rapsal15समूह sexystorybhai bahan sex kahaniantervasna auntiputoh sasur xxxstoriBHEN KO BLACKMAIL KIYA SEXY KAHNIबहिया और पापा मेरी गांड मारते ःsexy story hindi pitchure bhi bhanhindi क्सनक्सक्स इंडियन कहानिया मस्तरामhindi ma saxe khaneyaHINDE ST0RY ANUJ MAME CHUT 2018 XXXXhindi papa and bahan xxx kahanidudha pite ladka ne jamkar chodha ladki koemeg loundiya ko palang tod chudai ki kahani hindisexe hinde khanetuje chodna h beta muje full hindi dubbing sex vidioबहन ने जब चलती थी गाड हिलती थीmastram ki mast kahaneमां बेटे की सबसे गंदी चुदाई की कहानी हिंदी सेक्सीबहन की बुर चुदाईnight club m bhabi ki chut miliiमम्मी की नंगी गाङ के बाल hindi sexy stories antarwasna2018 ki new hindi sax kahaniAntarvasna latest hindi stories in 2018xxx sexy didi gand sex storiya hindismall bhahan ne seel todvai bhai ne sikha chodana hindi kahani sexsasur na mera chutchodachalti train me didi ka gangbangKAHANE HINDE MEचुछी की कहानीदीदी भाई पापा मम्मी चुत नंगी रंङीhindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/tag- chudayi kahani/pornonlain.ru/ page 99-123-189-222-256-320xnxxx.बहन।का।फोकाxxx storis didi ki bra penty ko dekha hindiहॉट हिन्दी सेक्सी स्टोरxxx,hindigoogle..marisaci.kahaniy.hindim.skykaise lo salhaj ki jawani ka majafuddime khujli mitaoसाश अर दमाद का XXXXX