भाभी और भाई बहन का प्यार



Click to Download this video!

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और जो कहानी में आपको बताने जा रहा हूँ वो बिल्कुल सच्ची कहानी है. मोहित अपनी बहन की सहेली मधु पर फिदा हो चुका था तो उसने अपनी बहन शीतल को अपनी सहेली के साथ दोस्ती करने और उसको पटाने का प्लान बनाया. शीतल यार अपनी सहेली से मेरा परिचय तो करवा दो ना? वो मुझे बहुत पसंद है और अगर वो मान जाए तो उसको तेरी भाभी बना लूँ, सच बहना. असल में मधु को शीतल भी बहुत पसंद करती थी और उसके साथ लेस्बियन सेक्स करने की इच्छा करती थी. अगर एक औरत की दूसरी औरत के साथ शादी हो सकती तो शीतल अपनी सहेली से शादी कर लेती, लेकिन मोहित के शब्दों ने उसको एक नई उम्मीद दे दी, अगर मेरी शादी मधु से नहीं हो सकती तो क्या हुआ? उसको सारी उम्र भाभी बनाकर तो साथ रख सकती हूँ ना? फिर शीतल ने सोचा कि ठीक है भैया, में कल रात के खाने पर मधु को बुला लेती हूँ.

मधु एक 21 वर्षीय, गोरी, बहुत सेक्सी लड़की थी. उधर शीतल भी स्लिम लड़की थी, जिसका रंग सांवला था और गांड और चूची मस्त थी. अगले दिन मोहित रात को शराब की बोतल ले आया और उसने मधु और शीतल दोनों को भी पिला दी. जब वो खाना शुरू करने वाले थे तो मोहित ने मधु को बाहों में भरकर चूम लिया और कहा कि मधु मुझसे शादी करोगी? तो मधु नशे में बोल गयी कि माँ राज़ी हो जाए तो आपसे शादी करके में बहुत खुश रहूंगी, आप जैसा पति और शीतल जैसी ननद मुझे कहाँ मिलेगी? फिर शीतल ने भी मधु को बाहों में भरकर उसके होंठ पर किस कर लिया और फिर शीतल अपनी सहेली के नरम होंठ चूसने लगी और मधु के हाथ शीतल के सीने से टकराने पर दोनों के जिस्म में एक तेज़ आग भड़कने लगी.

फिर मोहित दिलचस्पी से अपनी बहन और होने वाली पत्नी के बीच का सीन देख रहा था और अपनी बहन और अपनी होने वाली पत्नी को कामुक अवस्था में देखकर उसको आनंद आ रहा था और उसका लंड भी खड़ा हो रहा था. फिर रात के 11 बजे पार्टी ख़त्म हुई और मधु घर चली गयी. फिर मोहित जब सोने जा रहा था तो उसने देखा कि शीतल के रूम में लाईट अभी भी जल रही थी तो नशे की हालत में वो अपनी बहन के रूम में लाईट बंद करने गया तो उसके दिल की धड़कन रुक गयी और शीतल शीशे के सामने खड़ी होकर कपड़े बदल रही थी, उसकी पीठ मोहित की तरफ थी. जब उसने अपनी बहन को सिर्फ़ पेंटी में खड़े पाया तो मोहित का लंड 90 डिग्री पर खड़ा हो उठा था.

शीतल का दूधिया जिस्म काली सिल्क पेंटी में ग़ज़ब लग रहा था, उसके चुत्तड का उठान, पतली कमर, काले बाल और नंगी पीठ देखकर मोहित पागल हो गया. तभी शीतल मुड़ी और उसने अपनी पेंटी को नीचे सरका दिया और शीतल का उभरा हुआ सीना, बड़ी मस्त चूची, उस पर भूरे निप्पल जो कि खड़े थे और ताज़ी शेव की हुई चूत जो कि डबल रोटी की तरह फूली हुई थी, यह देखकर मोहित की सांस ऊपर की ऊपर और नीचे की नीचे रह गयी. अब उसका हाथ अपने आप लंड पर चला गया और लंड को हिलाने लगा और सोचने लगा कि काश शीतल मेरी बहन ना होती और में उसको चोद लेता, हे भगवान तुमने मेरी बहन को इतना सेक्सी क्यों बनाया है? और अगर बना ही दिया है तो भगवान मुझे बहनचोद बना दो.

अब शीतल की आँखों में भी वासना के लाल डोरे थे और उसका एक गोरा हाथ उसकी चूत को ठपठपाने लगा था और दूसरा हाथ अपनी चूची को मसलने लगा, मुझे भी भैया जैसा मस्त मर्द दे दो भगवान, मेरी किस्मत भी मेरी सहेली जैसी बना दो भगवान, मुझे भी भैया जैसा लंड दे दो, जो मेरी चूत की आग बुझा डाले और मुझे मसल कर रख दे, ये शीतल के मन की पुकार थी. अब उसकी एक उंगली उसकी भीगी चूत में घुस गयी तो मोहित ये देखकर ज़ोर-ज़ोर से मुठ मारने लगा और उसके लंड ने ढेर सारे वीर्य की उल्टी कर दी. अब शर्मिंदा हुआ मोहित अपने रूम में जाकर सो गया और फिर सुबह शीतल उसको अजीब नज़रों से देख रही थी और अपनी बहन को छोटी सी नेकर और पारदर्शी टी-शर्ट में देखकर मोहित का लंड फिर से खड़ा होने लगा था और उसको अपनी बहन की चूची तो मधु की चूची से भी मस्त लग रही थी.

फिर शीतल की नज़र भी भैया के पजामे के उभार पर गयी तो वो मुस्कुरा कर बोली कि भैया क्या हुआ कल नींद ठीक से आई ना? तो मुझे लगा कि कोई मेरे रूम में देख रहा था, लेकिन आप तो अपने रूम में थे. खैर आप तैयार हो जाए तो आज मधु की माँ से मिलकर आपकी शादी की तारीख भी पक्की करनी है, आपकी शादी में जितनी देरी होगी उतना ही आप व्याकुल होंगे, क्यों भैया? शीतल ने ये कहते हुए अपने भाई को अपने सीने से लगा लिया. इससे पहले कि मोहित का लंड उसकी बहन की चूत पर दस्तक दे डाले, वो घबराकर बाथरूम में चला गया.

अब उसकी आँखों के सामने से अपनी बहन की चूत, चूची और गांड का सीन हट नहीं रहा था और उसने अपनी सेक्सी बहन शीतल को याद करते हुए एक बार फिर से मुठ मार डाली. फिर मधु की माँ शादी के लिए मान गयी और उसी हफ्ते रविवार को मोहित और मधु की शादी मंदिर में हो गयी. शीतल ने अपने हाथों से भैया की सेज सजाई, जब वो सेज फूलों से सज़ा रही थी तो उसके मन में अपनी भाभी का नंगा जिस्म और उसके ऊपर भैया चढ़े हुए उसको नज़र आ रहे थे, हे भगवान आज मेरी सहेली की सील मेरे भैया का लंड तोड़ डालेगा, मधु कितनी खुश किस्मत है.

उसके बाद वो सीधी अपनी भाभी के पास गयी और उसके गले में बाहें डालते हुए बोली कि भाभी जान क्या सुहागरात की तैयारी हो गयी? पिच तो साफ कर ली ना? देख लेना अगर पिच पर घास हुआ तो भैया कहीं पहली बॉल पर ही आउट ना हो जाए और पिच ऐसी होनी चाहिए कि जिस पर भैया जमकर बैटिंग कर सके.

मधु कुछ नहीं समझी थी तो शीतल बोली कि भाभी में चूत की बात कर रही हूँ, अपनी चूत की शेव की है या नहीं. मैंने सुना है कि मर्द लोग साफ चूत ही पसंद करते है लाओ मुझे दिखाओ वो खुश किस्मत चूत जिसको आज भैया चोदेंगे. ये कहते ही ननद ने भाभी की साड़ी ऊपर उठा डाली और पेंटी नीचे सरका दी, मधु की चूत पर छोटे-छोटे बाल थे. फिर ननद ने भाभी की चूत पर हाथ फेरते हुए कहा कि भाभी अपने कपड़े उतारो और बाथरूम में आओ और आपकी सुहागरात की तैयारी भी मुझे ही करवानी पड़ेगी. फिर मधु गुस्से में बोली कि शीतल ये क्या कर रही हो, तुझे शर्म नहीं आती? में तेरे भैया की पत्नी हूँ तो शीतल बोली कि फिर भी तैयारी तो करनी होगी ना.

फिर वो अपनी भाभी को खींचकर बाथरूम में ले गयी और मधु को फर्श पर लेटाते हुए बोली कि भाभी अब अपनी ननद के सामने टाँगें खोल दो और में तुझे चोद नहीं सकती, क्योंकि मेरे पास भैया जैसा लंड नहीं है और में तो बस इस प्यारी सी चूत की शेव करने आई हूँ, ओह भाभी खोल दो अपनी टाँगे प्लीज.

फिर शीतल ने मधु की चूत पर पानी लगाकर शेव क्रीम लगाई और रेज़र लेकर चूत के बाल साफ करने लगी. शीतल के स्पर्श से मधु उत्तेजित हो गयी थी और वो सिसकियाँ लेने लगी थी, अहह शीतल ऐसा मत करो, प्लीज मत छुओ मुझे, मुझे शर्म आ रही है, ऊऊहह शीतल ये क्या कर रही हो? लेकिन शीतल रेज़र चलाती रही जब तक की भाभी की चूत मक्खन जैसी मुलायम नहीं हो गयी. वाह कितनी प्यारी चूत बन गयी है मेरी भाभी की, दिल करता है इसको चूम लूँ, ये कहते ही ननद ने भाभी की चूत को चूम लिया.

फिर मधु की उत्तेजना इतनी बढ़ चुकी थी कि चूत के रस की कुछ बूँदें ननद के होंठों पर जा गिरी और नमकीन स्वाद से अपने होंठों को चूसते हुए शीतल बोली कि भाभी इस नमकीन चूत रस का स्वाद रात को भैया को भी चखा देना, क्योंकि उसके बाद भैया इस चूत में लंड डालने वाले है. फिर शीतल ने चूत को पानी से धोया और फिर लोशन लगाया तो चूत खुशबू से महक उठी, चलो भाभी अब भैया के पास जाने को तैयार हो जाओ, वो भी बहुत बेताब हो रहे होंगे. फिर रात को मोहित मधु को लेकर अपने रूम में चला गया और लाल साड़ी में अपनी बीवी को देखकर सुहागरात के सपने उसकी आँखों में चमक उठे. उसने मधु को अपनी बाहों में लिया ही था कि दरवाज़ा खुला और शीतल दूध का ग्लास लेकर रूम में दाखिल हुई और बोली कि भैया वैसे तो मुझे मालूम है कि आप आज बहुत दूध पीयेंगे, लेकिन अपनी बहन का ये दूध भी पी लेना.

फिर शीतल की नज़र अपनी भाभी के उभरे हुए सीने पर थी तो भाभी ने शर्म के मारे अपनी नज़र झुका ली और मोहित अपनी बहन के पीछे भागा और शीतल आगे भागी और रूम से निकलने से पहले मोहित अपनी बहन के उभरे हुए चूतड़ पर थप्पड़ लगाने में कामयाब हो गया. अब शीतल के बाहर जाते ही मोहित ने रूम अंदर से लॉक कर लिया और अपनी पत्नी को बाहों में लेकर चूमने लगा.

अब मोहित के हाथ तेज़ी से मधु के बदन पर चलने लगे थे और अपनी उत्तेजित पत्नी को और उत्तेजित करने लगे थे. मधु तुम आज बहुत सेक्सी लग रही हो और आज में मेरे सारे अरमान पूरे करूँगा, तेरे बदन का एक-एक इंच चूम लूँगा, तेरी गोरी चूची को चूस लूँगा, तेरे होंठों का अमृत पी लूँगा और में तुझे इतना प्यार करूँगा कि कल तो तू ठीक से चल भी नहीं पाओंगी. अब चल पहले अपने कपड़े उतार डाल और मुझे अपना नंगा जिस्म दिखा तो मधु का जिस्म जल रहा था, क्योंकि उसको भी मर्द का सुख पहली बार मिलने वाला था, उसने भी लंड लेने के सपने देख रखे थे और आज मोहित उसको चोदकर सम्पूर्ण औरत बना देने वाला था.

फिर मोहित ने अपनी पत्नी को नंगा करना शुरू कर दिया. उसने उसकी साड़ी और ब्लाउज उतार दिया और फिर मधु को सिल्क पेंटी और ब्रा में देखकर पागल हो गया. फिर जब मोहित ने मधु की ब्रा हटाई तो उसकी मस्त चूची बाहर आ गयी, जिसको मोहित ने भी अपने हाथों में भर लिया. फिर मधु ने आँखें बंद करके कहा कि मोहित मत तड़पाओ, दिल बहुत घबरा रहा है, ऊफ्फ्फ मोहित ये क्या कर रहे हो? लेकिन मोहित ने उसकी पेंटी नीचे सरका डाली.

अब उसी की बहन ने जिस चूत की शेव की थी वो मोहित की नज़र के सामने थी और उसकी प्यारी सी चूत से चूत रस की बूँद टपक रही थी. फिर मोहित बोला कि वाह मधु तूने अपनी चूत मेरे लिए साफ करके रखी है क्या? में इसका रस पीने को तड़प रहा हूँ, ये कहते ही मोहित ने अपना मुँह झुकाया और चूत का रस चाट लिया. फिर मधु बोली कि मोहित इसकी शेव मैंने नहीं की, शीतल ने की है और उसी ने ही बताया कि मर्द लोग शेव की हुई चूत पसंद करते है, उसने तो इसको चूमा भी था और जिस चूत को पहले बहन ने चूमा था और अब भाई चूम रहा है.

फिर मोहित इस रहस्य उद्घाटन से हैरान रह गया, क्या मेरी बहन ने मेरी बीवी को नंगा देखा है? उसकी चूत को चूमा है? इन ख्यालों से उसका लंड और भी अकड़ गया. अब एक पल के लिए उसकी आँखों के सामने अपनी बहन का नंगा जिस्म घूम गया और उसने मधु की चूत को हाथों में मसल दिया और खुद को नंगा करने लगा. अपने पति के खड़े लंड को देखकर मधु वासना से पागल हो गयी और काली काली झाटों में उभरा हुआ 7 इंच का लंड उसको पागल बनाने लगा. अब मोहित नंगा होकर बेड पर आ गया और जब उसने मधु के कंधे पर हाथ रखा तो वो मुस्कुरा पड़ी और अपने पति की जांघों को सहलाने लगी. फिर मोहित ने मधु की चूची को पकड़कर मसल दिया और मधु भी आगे झुक गयी. फिर दोनों के होंठ एक दूसरे को किस करने लगे.

फिर उन दोनों के जिस्म एक दूसरे से लिपटने लगे, ओह्ह मधु, मेरी जान तू कितनी हसीन है, तेरा हुस्न कितना दिलकश है. मैंने आज तक ऐसी चूची नहीं देखी, मुझे अपनी चूची चूस लेने दो, मुझे निप्पल चूस लेने दो मेरी मधु.

फिर मोहित अपनी बीवी की निप्पल को चूसने लगा था और मधु ने अपनी आँखें बंद कर रखी थी और मज़े से कह रही थी, हह्ह्ह्हह मेरे मालिक, चूस ले मेरी चूची को आज तेरी बीवी हर काम के लिए हाज़िर है, मेरा जिस्म तेरा है, तू ही मेरा मालिक है, ज़ोर से चूस मेरी चूची को, मेरी जांघों में मेरी चूत जल रही है, मेरी चूत अपना रस छोड़ने लगी है, मेरे निप्पल चूस लो मेरे मालिक. फिर मोहित का हाथ मधु की जांघों के बीच होकर चूत पर चलने लगा और मोहित के हाथ ने एक हल्की सी थप्पड़ उसकी गर्म चूत पर लगा दी और मधु के मुँह से हल्की सी सिसकी निकल गयी, ऑश मोहित बहुत मज़ा आ रहा है और ज़ोर से हाथ मारो मेरी चूत पर, मुझे मज़ा आ रहा है, अब मुझसे रहा नहीं जा रहा, मोहित अब मुझे चोद डालो.

फिर मोहित ने अपनी बीवी की चूची पर तमाचा मारा और अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाल दी, मधु की चूत तो पहले से ही रस से भीगी हुई थी. फिर मधु ने अपनी टाँगें चौड़ी कर ली और मोहित आराम से उंगली के साथ अपनी बीवी को चोदने लगा. अब दो नंगे जिस्म पलंग पर मचल रहे थे.

मोहित अब धीरे-धीरे अपना मुँह अपनी बीवी की चूत की तरफ बढ़ाने लगा तो वो उसके मुँह से अपनी बीवी की नमकीन चूत के रस को चाटने के लिए लार टपका रहा था. मधु की गोरी जांघे और खुल गयी और मोहित का मुँह उसकी चूत में समा जाने की कोशिश करने लगा. उसकी जीभ चूत की दीवारों को चाटने लगी थी, अहह मोहित, मेरे मालिक, मेरी चूत झड़ रही है, मेरे रस को पी जाओ, मेरी चूत में पूरी तरह से अपनी जीभ पेल दो, आआहह में मरी जा रही हूँ.

फिर मोहित अपनी पत्नी के ऊपर लेटकर उसकी चूत को चाटने लगा और उसका लंड मधु के मुँह के सामने आ गया. अब मधु ने अपने पति के लंड पर हाथ फेरा और फिर उसकी लंबाई पर अपनी ज़ुबान फेरनी शुरू कर दी और फिर लंड के सुपाड़े को चूसना शुरू कर दिया. अब मोहित को ऐसा मज़ा आने लगा था कि जो आज तक नहीं आया था और वो अपनी कमर उछाल-उछाल कर अपनी पत्नी के मुँह को चोदने लगा.

अब मोहित की ज़बान मधु के होल को चाटती हुई उसकी चूत की पूरी गहराई तक चली जाती और चूत के रस को चाट लेती, उसने अपनी मधु के चूतड़ जकड़ रखे थे और कभी-कभी उसकी ज़बान उसकी गांड को भी चाट लेती थी. उधर मधु अपने पति का पूरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी तो मोहित को लगा कि वो झड़ जायेगा और अब पूरे कमरे से पच-पच की सेक्सी आवाज़ें आ रही थी. पति और पत्नी वासना की आग में दहक रहे थे और दुनिया को भूलकर चुदाई के मज़े लेने में व्यस्त थे, अब मधु की गांड भी ऊपर नीचे हो रही थी.

फिर उसने मोहित के अंडो को हाथों में मसल दिया तो मोहित की सिसकारी निकल गयी और उसकी पिचकारी निकल गयी जो कि उसकी बीवी के मुँह में जा गिरी. मोहित के लंड का कुछ रस उसकी पत्नी के मुँह से निकलकर उसकी चूची पर जा गिरा, अब मोहित के चूतड़ तेज़ी से उछल रहे थे और वो मज़े से मधु की चूत का रस चूस रहा था, तभी मधु की चूत ने भी पानी छोड़ दिया जो मोहित पी गया.

फिर वो दोनों कुछ देर में शांत हो गये. फिर कुछ देर तक वो दोनों नंगे पलंग पर एक दूसरे से लिपट कर लेटे रहे और अब वो दोनों शांत और संतुष्ट थे, लेकिन चुदाई का खेल अभी शुरू भी नहीं हुआ था. फिर मधु उठी और मोहित के लंड को फिर से चूसने लगी और बोली कि मोहित अब मुझे अपने लंड का असली मज़ा दो, में मेरी चूत चुदाई के लिए तड़प रही हूँ, आज से आप ही मेरे जिस्म के मालिक है और जैसे चाहो आप इसको चोदो. फिर मोहित लेटा रहा और मधु उस पर चढ़कर उसके लंड को अपनी चूत पर रगड़ने लगी.

फिर मोहित से जब रहा नहीं गया तो उसने अपना लंड ज़ोर से चूत में पेल दिया और चूत चिकनाई युक्त होने से लंड आसानी से अंदर चला गया. फिर मोहित ने अपने चूतड़ उछाले और उसका पूरा लंड उसकी बीवी की चूत में समा गया, ऊफफफफ्फ़ मोहित आपका लंड कितना बड़ा है, इसने तो मेरी चूत को हिलाकर रख दिया, मेरी जान ही निकल गयी मोहित, ये कहते हुए मधु अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी और मोहित भी जोश में आने लगा. फिर मधु के चूतड़ को मोहित ने कसकर पकड़ लिए और नीचे से धक्के मारने लगा.

फिर मोहित मधु की चूचियों पर ज़ोर-ज़ोर से किस करने लगा तो मधु बड़बड़ाने लगी, चोदो मुझे मेरी जान और मेरी चूत का रस निकाल दो, अपने लंड से मेरी चूत की आग शांत कर दो, आपका लंड बहुत मस्त है और मुझे अपना बना लो. फिर मोहित ने एक उंगली मधु की गांड में घुसा दी और चूतड़ो पर हाथ फेरने लगा.

फिर वो अपने आप पर कंट्रोल खोने लगा था तो मधु बोली कि तुम अपना लंड बाहर निकाल दो. फिर मोहित ने अपना लंड बाहर निकाला और बोला कि अब हमें स्टाईल बदलनी चाहिए और तुम आगे की तरफ झुक जाओ, में तुझे एक कुत्तिया की तरह चोदना चाहता हूँ. फिर मधु बिना कुछ बोले कुत्तिया बनकर झुक गयी.

फिर मोहित ने उसकी गांड पर हाथ फेरा और चूतड़ों के बीच से लंड चूत में पेल दिया तो मधु सिसकारी ले उठी, आअहह मोहित जी मुझे चोद डालो, बहुत मज़ा आ रहा है, मेरे राजा ऐसे ही मेरी चूची मसलो, आपका लंड बहुत मस्त है. मोहित अपनी बीवी के शब्द सुनकर और भी जोश में आ गया और ताबडतोड़ धक्के मारने लगा और मधु की चूत के रस से भीगा लंड आसानी से उसकी चूत में जाने लगा था और मधु वासना के नशे में अपनी गांड पीछे धकेलने लगी थी. अब चुदाई की पच-पच की आवाज़ें पास वाले शीतल के रूम में भी सुनाई आ रही थी, जो अपने बिस्तर पर नंगी लेटी हुई अपने भाई और भाभी की सुहागरात की आवाज़ें सुनकर पागल हो रही थी.

उसकी साँसें भी तेज़ हो रही थी और उसके हाथ उसकी चूत को मसल रहे थे और उसके मन की आँखों के सामने उसके भैया का लंड उसकी भाभी की चूत में घुस रहा था और वो बेचारी अपनी उंगली से ही अपने आपको चोद रही थी, उसने पहले एक, फिर दो और फिर तीन उंगलियाँ चूत में डाल दी थी. मोहित का अधिक देर तक रुक पाना संभव नहीं था, क्योंकि मधु भी चूतड़ धकेल-धकेल कर चुदाई का आनंद ले रही थी.

फिर उसने अपना एक हाथ पीछे ले जाकर अपने पति के अंडकोष पकड़ लिए और मसल दिए, अहह मधु में झड़ रहा हूँ, ऊऊहह बहनचोद मेरा लंड झड़ रहा है, मेरी रानी में जा रहा हूँ. उधर मधु की चूत भी पानी छोड़ रही थी और जब मोहित ने उसकी चूत पर हाथ फेरा और उसका होल रग़ड दिया तो वो कराह उठी. क्योंकि चूत से रस का फव्वारा छूट पड़ा, आह्ह्ह्ह में गयी, में झड़ी, आआहह मोहित में झड़ी, अब मोहित का लंड पानी छोड़ रहा था तो उसने लंड चूत से बाहर निकाला और मुठ मारने लगा और उसके लंड रस की धारा सीधी मधु के मुँह पर और पेट पर जा गिरी और चूत रस मधु की चूत से होता हुआ पलंग की चादर पर जमा हो गया. फिर ज़बरदस्त चुदाई के बाद वो दोनों एक दूसरे की बाहों में सो गये.

फिर सुबह 6 बजे मधु की नींद खुली तो उसने अपने आपको मोहित की बाहों में नंगा पाया और वो मुस्कुरा पड़ी. मधु की जाँघ मोहित की कमर के ऊपर थी और मोहित का लंड उसकी जाँघ पर ढीला सा सोया पड़ा था और वो ही लंड जिसने मधु की चूत का दम निकाल दिया था, वो ही अब सुस्त पड़ा हुआ था. रात की चुदाई की याद ने उसको फिर से चुदासी कर दिया और उसका हाथ अपने आप पति के लंड पर चला गया और मधु के स्पर्श से लंड महाराज ने क़िसी नाग देवता की तरह सर उठाया और चुदासी पत्नी ने नाग देवता को हाथ में थाम लिया और वो उसको सहलाने लगी और सोचने लगी कि ना जाने लंड महाराज आज क्या दिखाने वाले है?

फिर मधु ने झुककर लंड को चूम लिया और झांटो से घिरे अंडकोष पर हाथ फेरने लगी, अब उसकी चूत रानी भी मस्त हो उठी और लंड महाराज को अंदर लेने के लिए तड़प उठी. फिर दो तीन बार जब उसने लंड को चूसा तो मोहित की आँख खुल गयी. फिर अपनी पत्नी को लंड की चुसाई करते हुए देखकर मोहित बहुत खुश हुआ और उसको ऐसी ही पत्नी की उम्मीद थी, जिसको हर वक्त लंड की भूख रहती हो. फिर मोहित ने उसकी चूची को पकड़ लिया और गांड पर हाथ फेरा. फिर मधु शरमाती हुई मोहित से लिपट गयी और उसके लंड से खेलने लगी.

फिर मोहित ने इस बार मधु को अपने लंड पर बैठा दिया और बोला कि रानी आज सुबह की शुरुवात तुम लंड की सवारी से करो, एक औरत की सबसे आनंदमय सवारी लंड की होती है और जब तुम मेरा लंड चूत में लेकर उछलोगी तो तुझे जन्नत का मज़ा मिलेगा. फिर मोहित अपनी पत्नी की चूची को प्यार से मसलने लगा और अब चुदासी मधु भी मजे लेती हुई मोहित के ऊपर चढ़ गयी और चूत को खड़े लंड पर रगड़ने लगी. उसकी चूत तो पहले ही पानी छोड़ रही थी.

फिर जब वो अपने पतिदेव को तड़पाती रही तो मोहित ने उसके चूतड़ जकड़ कर उसको अपने लंड पर खींच लिया और चुदासी चूत एक पल में ही सारा लंड खा गयी, आआअहह मोहित धीरे से चोदो, बहुत मज़ा आ रहा है, मुझे नहीं पता था कि चुदाई में इतना आनंद मिलता है, पेल डालो अपना लंड मेरी चूत में, ऊऊऊहह में मर गयी, चोदो मुझे मेरे स्वामी. फिर मोहित ने मधु को अपनी तरफ खींचकर उसकी चूची को मुँह में ले लिया और चूसने लगा.

फिर मधु और भी ऊँची आवाज़ में सिसकियाँ भरने लगी, क्योंकि अब मोहित का लंड उसके गर्भाश्य से टकरा रहा था. अब मधु अपनी गांड उछाल-उछाल कर चुदाई करने लगी थी और अब मोहित की ज़बान जब उसकी चूची को चूसती तो वो पागलों की तरह हाँफने लगी और बड़बडाने लगी. फिर मोहित ने ज़ोर से उसकी गांड पर तमाचा मार दिया और बोला कि इतना शोर क्यों मचा रही हो रानी? आवाज़ कम करो, कहीं शीतल ना सुन ले और मेरी बहन क्या सोचेगी? मधु की सिसकियाँ जारी रही और वो बोली कि राजा चोद डालो मुझे, शीतल क्या सोचेगी? वो सोचेगी कि उसका भाई उसकी भाभी को जन्नत दिखा रहा है और आपकी बहन भी तो जवान है, उसको भी तो लंड की ज़रूरत है और वो भी लंड के सपने ले रही होगी. अब तो शीतल के लिए भी लंड का इंतजाम करना होगा.

फिर मोहित को अपनी बहन की बात सुनकर अजीब लग रहा था, लेकिन उस वक्त उसका लंड अपनी पत्नी की चूत में घुसकर उसको मज़े दे रहा था और वो मस्त चुदाई कर रहा था. अब मधु कुत्तिया की तरह हाँफ रही थी, जब मोहित का हाथ उसके चूत के दाने पर लगा तो उसका पानी निकलने लगा और मधु बोली कि मोहित चोद मुझे, भर दे मेरी कोख, बना दे मुझे माँ, चोद मुझे, में झड़ रही हूँ, उईईइ माँ में मर गयी और मोहित का पानी भी निकल गया और लंड ने पिचकारी चूत में मार दी और कुछ रस चूत से बाहर निकलकर मधु की जांघों पर चला गया. जब चुदाई चरम सीमा पर चल रही थी तो शीतल मधु की सिसकियाँ सुनकर उठ गयी और उसने सोचा कि भैया सुबह की पारी शुरू कर चुके है, काश मुझे भी कोई चोदने वाला होता तो मुझे भी चुदाई का मजा मिलता.



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


boyfriend se simla me chudai karwai sex storykamwali ke sat xxx vediohindi mसेकसी विडीयो लबालबhindi saxy kahaniya ancal ne mare babhi ko cudamosi maki gand marvae real sex Tory Hindi shadi suda didi boor gang boor chudai kahanidevar bhabhi hot sorty ava addamsदीदी भाई पापा मम्मी चुत नंगी रंङीजवान चूत का मजापहली बार अपनी मर्जी से चुदवाईhinde xxx bf mingalsxxx mame ko chodakar bacha deya.sex katha.comsex kahany2018 की बहन ने अपने भाई से बुर पेलवाइ कहानियाँhindi sex stories maa ka gangbang kheto mसील बदं सेकसी अढaunty ki naram hot xjuthttp://pornonlain.ru/shekh-ne-pati-ke-samane-mujhe-choda/जेठ ने चूमा चाटा चोदारिश्तेमे सेक्स कथाhindi mesisthr biradhr xxx ki kahneeचुतरोमांटिक गांड बुर चुदाई की कहानीपानी वाला चुत का क्सक्सक्स फोटोsex devar ne bhabhi ko jabardasti sari khol kar boor choda kahani hindi memummy ki chudaiMumbai ki chala me dekhi Hindi sex story. comradha ke sath padhai karte hue sez kia hindi sexxi kahanikatarnak.cudai.kam.umar.ki.lgirl one girl pali doodh Peene wala video sexFudi wali khaniya jab ladki ke fudi. fatdi ha Kya hot haindian bap beti silipng xxx estorisex kahani hindhijanwr.se.xxx.sax.khani.hindihot collage girl/nokarani/bus me hot ladki ki kahani3 fut lmba land ke cudaye xnxxxXnxx चुचे of Mishtihot गुरू माँ ता कि sex hindi store89hindisexkamuktaxxx chot hot figar jab land na mily vidioantarvasna.ante.hende.khanexnxn phele par chut marwa rahi hu sexy video Collage girls hostel mi sex anjan aadmi kahanibhan sa shadi kr ka maa banaya badstory waphindi sex story babulu ne bahen renu ko choda mast chuchiyaling bur ka ladai x kahani hindiदोस्त की मम्मी को ब्लेक मेल करके जबरदस्ती चुदाय antarvasna hindhi storysex rishto me hindi kahani with photoEk saath 5 bahno ki chudai hindi storyXXXX 2005 के ससुर ने बहू की च** फाड़ डाला को देवर ने भाभी को चोदाantervasnasexkahaniहिंदी भाषा मे सैकस मे किया करते है सैकसी काहानीkamukta.ke.khanekamyuta. com sex kahanigabarjaste ladke k sath 2 ladka k boor chodai k rasm xxx.comxxx Indian kahani Tau aur MaaSexy aurat Apne Pati Se Sab doston ke Doosre Pati Ko Bulana sex karnamaa sath hugne gaya bachpan me sex storyporn ki kahanihindi xxx khani online mkan malkin ki cu bhua ko chuda san n. or. prgnt kiya hindi sex storryxxx ant khaniya hindiSuman nikalne wala pahla sexmaa our Muslim auncal ki chudai bus me dekhi hindi sex kahaniya. com परायार्मद सेक्स काहानीladaki cudae kara dali ladaka na xxxStory type videoRape porn video mama bhanji ki indiankahani sex ki hindi maiwafr pate xxx khine in hindeजाटणी की अन्तर्वासनाmousi ne lund ka ilaj kiya sex story