मेरा पहला सेक्स अनुभव मेरी विधवा माँ के साथ का है। हमें बच्चा जानकर वह हमारे एक अंकल जी के साथ खुलेआम नंगी होकर सेक्स कर लेती थी। जब अंकल जी रात को हमारे घर रुक जाते तो मम्मी मुझे बहन के बिस्तर में सुला देती; नहीं तो मैं उनके साथ ही उन्हीं के बेड पर सोता था। हमने उनको नंगी होकर अंकल के साथ मस्ती करते खूब देखा था। मम्मी अक्सर अन्य मर्दों के साथ भी दिन में ही नंगी गुथमगुत्था कर लेती थी। लेकिन तब हम इन बातों का मतलब नहीं जानते थे।
एक रात अंकल मम्मी पर चढ़े हुए थे और मैं बहन के बिस्तर में था। अचानक मेरे भीतर कोई एक अनोखी तरंग पैदा हो गयी। अपने कमरे के दरवाजे को थोड़ा सा खोल के मैं मम्मी की रासलीला देखने लगा। मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार फेंके और बहन को जगा लिया। मैंने कहा- चल मम्मी की तरह तू मुझसे लिपट जा। मैं अंकल की तरह तुझे ‘प्यार’ करूंगा।
बहन भी मम्मी की रास-लीला को मस्ती में देखने लगी। जब करंट बना तब मुझसे चिपट भी गयी। मेरा लंड पकड़ लिया। मैं उसके कपड़े उतारने लगा तो उसने  विरोध नहीं किया। हमें यह नहीं पता था मुझे मेरे खड़े लंड का क्या करना है? ना ही बहन को पता था की उसकी गीली हो रही चूत का राज क्या है! फिर भी लिपटा-चिपटी में ही बड़ा मजा आया और हम अक्सर ऐसा करने लगे।
एक रात, जब मैं कोई 18 साल का हो गया था, माँ के साथ लेटा हुआ था। रात के करीब डेढ़ बजे आँख खुली तो मैंने पाया कि मेरा लंड कड़क हो रहा है। कमरे में नाइट बल्ब का गहरा गुलाबी प्रकाश फैला हुआ था। माँ की तरफ देखा तो मेरे भीतर फिर वही तरंग जाग उठी- पेटीकोट के उघड़ जाने से मम्मी की मस्त जांघे नंगी चमक रही थी। बिना ब्रा के ब्लॉउज में भी उनके तगड़े उरोज मुझे अपनी तरफ खींच रहे थे।
मैंने अंकल की तरह अपने कपड़े बड़ी तसल्ली से अपने कपड़े उतारे और बेफिकर हो मम्मी की चूत पर से रहा-सहा पेटीकोट का हिस्सा भी ऊपर को कर दिया। पूरी तसल्ली से उनकी चूत निहारते रहने के बाद मैंने उसे धीरे-धीरे सहलाना शुरू कर दिया। मम्मी निश्चित रूप से नींद में थी लेकिन उन्हें उसी दशा में जाने कितना मजा आने लगा कि वे अपनी टांगों को फैलाते हुए मदमस्ती में बोल उठी- आह जानी, अब चूसो इसे!
मुझे सिखाने की जरूरत नहीं थी। मैंने अंकल को यह सब करते खूब देखा था। मैं बिना समय गँवाये उनकी चूत को चाटने लगा। मम्मी भी अब तरंग में आने लगी।  अपने पैरों को पूरा फैलाते हुए उन्होंने मेरे सिर को पकड़ के अपनी चूत पर दबाना शुरू कर दिया। साथ ही अपनी कमर को ऊँची करके चूत को मेरे मुंह में ठेलने लगीं। उनकी चूत अब तक इतनी गीली हो चुकी थी कि रस के मारे मेरा मुंह भरा जा था।
“अब डाल दो! जल्दी से डाल दो अपना गर्म लंड! फाड़ दो मेरा भोंसड़ा!” मम्मी तड़पने लगी थी।
मेरे कुछ समझ में नहीं आया तो मैं चूत चाटना छोड़ कर मम्मी के ऊपर पसर गया। उनके ब्लाउज के हुक खोल कर मस्त बूब्स को चूसने लगा। मम्मी ने आह-ऊऊऊह करते हुए टटोल कर मेरा लंड पकड़ लिया और उसे अपनी चूत पर सेट करके खुद ही नीचे से ऐसा धक्का दिया कि मेरा पूरा लंड सरसराते हुए अंदर चला गया। मजा तो मुझे बहुत आया और जैसा मैंने अंकल को पेलते हुए हुए देखा था उसी तरह मैं भी मम्मी को पेलने लगा। एक  बार कमर उठा के धक्का देते ही इतना मजा आया कि बता नहीं सकता। फिर तो मैंने धकापेल मचा दिया। झटके पर झटका देता चला गया। किसी मशीन की तरह अब मेरा लंड माँ की चूत में सटा-सट भीतर बाहर हो रहा था। अब तक मम्मी की नींद पूरी तरह टूट चुकी थी। शायद उन्हें शंका हुयी। मजे लेते हुए ही वे पूछने लगीं- कौन हो तुम? आअह्ह! कैसी गजब की चुदाई! आह्ह, कितना मजा रहा है! आह्ह, पहले किसी ने मुझे ऐसा नहीं चोदा! इतना मजा किसी ने नहीं दिया! आह्ह्ह! पेलो, मुझे और भी जोर से पेलो! फाड़ दो मेरा भोंसड़ा!
मैंने उसे मजबूती से ऐसे पकड़ रखा था कि वह आस-पास देखने की स्थिति में भी नहीं थी। अचानक ही वह ईईईईईई करते हुए ढीली पड़ गयीं। लेकिन मैं पेलता रहा और तब अचानक मुझे ऐसा लगा मानो मेरा ‘पेशाब’  बेकाबू होकर उसकी चूत में निकला जा रहा हो। मैं चिल्लाया- ओह, मम्मी! मेरा पेशाब निकल गया!
मैंने गौर किया कि अवाक् मम्मी की आँखें पथरा सी गयीं और मुंह खुला-का-खुला ही रह गया। उन्होंने मुझे अब पहचाना कि उनकी चूत के रास्ते उनको ‘गजब का मजा’ देनेवाला लंड कभी उन्हीं की चूत से निकला था।

loading...

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


masi ki cudai rajai nebagal wale chacha ki ladki ko blackmail kar ke chudai kahanikamantrvasna.comjealn khol k lene wala Indian girl xXxXबुआ की सील तोड़ी शर्दी मेsaske samne bahu ko chuda storywww,sexe video bhen nahanewalaमुशलिम शेकश शटोरिxxx jabrdaste kiya kahneTrain me लड़की को चोदा वीडियोअंकल आंटी की सुहागरात की सेक्सी स्टोरीsxxx video dhod daban jabarjasti Baik ki lain ki sexy kahaniVIDHAVA AVRTA SAX KAHANIdahte nukar k xxx kahneदेवर से गाड मार लीSexi girl bhosh desi kahanisister ko hotdl main le jakar choda hindi kahani.comsidhe saxxgao bahdal XXX sexhindi sex stories. chudayiki sex kahaniya. kamujjta com. antarvasna com/tag/bktrade. ru/page no 319 रात के नींद की गोलीया खिला कर चूदाई की मामी,चाची,पड़ोसनआंटी,भाभीkamukta97 SAL KI LADY KI CUDAI KI KHANIjim karne vale hendsame devar se chud gai hone vali bhabhi hindi kahaniyaचुत मे से लाठ पानी हिन्दी xxx hdXX kahani Hindi padhne ke liyekahani codai ki banarsiमाँ ने कहा पेल मादरचोदsavita ne bhanje se cudwaya kahanigaun mein mast chudai ki sexy khaniyama.bete.ke.chodai.diutipaylar.me.sexi.hindi.me.kahanihindisex khaniyanewभाई से छुड़वाया कर प्रेग्नेंट हुई सेक्स स्टोरdimak dauda aur mere bf ka land lanba choda hindi sex storiesstory 14saal ke puja ko choda hendi me xxx imagepoori rat aunty ki choot mariबुर की चुदाई की कहांनियांदीदीको चोदाsexy stotixxxxxxx.hinde.kahane.sturejethani.ka.land.sex.khaniबड़ा लंड से चुदाई हिंदी सेक्स भाबी नन्दोई चूसै हिंदी कहानियांindian aunty sex xxx image -desi kahanisex sexy video forced ।कहानिlode ne choot ka bhosda banayaनकली लण्ड से चोदाई .comभाभी होटल में गैर मर्द से चूड़ी मैंने देखाhttp://xxxhindisexstory.com/hindi-sex-stories/dost-ki-wife-se-sex-story/हॉट सिस्टर और सेक्सी भाभी की चुदाई की यौम स्टोरीnipall bhai bhin batrom xxx hd videos hindesixe.comचोदने कहानीwww mai air meri doctar bahan ki part 1 xxx khani comsexy story of padosansix kahaniadult sex stories hindisagi maa ko sage bete nay chouda hindi mai mastram . com ki khani likhit mayसेकसी कहानीया अडीयो youtoheinde sexmaa ne bete kesath pani me x kahanisexkahanibabi ki judai rat ko nude khanichut chudaey xxxxxअन्त्य के कट चुदऊ हिंदी म और पार्ट मxxx kahine hindibheek mangne wali ki jabardasti chudai video sexybahi na apne choti bahan ki gandmari bahi na kahani hindimom teen lick.combihar.me.aurat,kisex.khanipakistani pariwar ki samuhik chudai hindi sex storyXNX कि कहनीबड़ी चडाई कहानियाँappni wife ki badli k sex kiya hindi storymaa ne swarg dikhayachudayiki sex kahaniya. indian sex stories com. antarvasna com/tag/page no 77--120--222--372--384